Akhilesh’s eye on BJP’s MANAGEMENT in BAREILLY

BAREILLY:सत्ता में होने के बावजूद भारतीय जनता पार्टी जिला पंचायत सदस्यों के चुनाव में दमखम नहीं दिखा सकी। बरेली-आंवला पंचायत चुनाव प्रभारी महाराज सिंह ने कहा कि लोकसभा और विधानसभा चुनाव की तरह ही हमनें मैनेजरमेंट किया। शीर्ष नेताओं ने सीधे संवाद किए। जनसंपर्क हुआ। अब जिला पंचायत सदस्यों में सीट कम आने पर हमनें मंथन शुरू किया है। जाहिर है कि पंचायत चुनाव का Management सटीक नहीं बैठा।
बूथ लेवल के सबसे नीचे के हमारे कार्यकर्ता इस चुनाव में अपनी भूमिका में पूरी तरह से नहीं आए। जहां मैनेजमेंट सही बैठा, वहां हम जीते भी। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी ने अपने शासनकाल में परिसीमन वोट बैंक के मुताबिक किया। यह भी हमारी चिंता का विषय रहा। लेकिन परिसीमन का गणित तोड़ना इतना आसान नहीं रहा। अब हम मंथन कर रहे हैं।वार्ड 11 पर भाजपा समर्थित प्रत्याशी गजेंद्र सिंह को सिर्फ 43 वोट से जीत मिली। वार्ड 22 पार्वती देवी को 365, वार्ड 55 सत्यपाल को सिर्फ दो वोट जबकि वार्ड 45 से सुनील कश्यप को सिर्फ 88 वोट से जीत हासिल हुई। मतलब साफ है कि सपा ने कड़ी टक्कर दी, लेकिन भाजपा के प्रत्याशियों को कई सीटों पर जीत बड़े अंतर से नहीं मिली। उन्हें एक-एक वोट की सेटिंग बैठानी पड़ी।

Monika

By Monika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *