BAREILLY: After covid, now case of Black fungus also came to light

CORONA ने तो अपना जाल बुन ही रखा था लेकिन एक और जानलेवा बीमारी Black fungus ने भी अपने पैर पसार लिया है इसी के चलते Black fungus पहला मामला सामने आने के बाद सनसनी फैल गई है।CORONA संक्रमण के बीच अब लोगों को ब्लैक फंगस अपना शिकार बना रही है। जिले के मीरगंज तहसील निवासी 47 वर्षीय महिला में ब्लैक फंगस की पुष्टि हुई है। जानलेवा बीमारी का पहला CASE सामने आने से खलबली मच गई है। यह मंडल का दूसरा CASE है। इससे पहले ब्लैक फंगस का केस पीलीभीत जिले में पाया गया था।
मीरगंज निवासी एक महिला में ब्लैक फंगस की आशंका होने के चलते शहर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। महिला के भाई प्रशांत की ओर से FACEBOOK पर डाली गई POST के मुताबिक कुछ दिन पहले बहन की Antigen report positiveआई थी, लेकिन बाद में आरटी-पीसीआर जांच NEGATIVE मिली। इस बीच आंख में सूजन आ गई।
परिजनों के अनुसार जांच के लिए एक निजी अस्पताल ले गए। जहां संदिग्ध ब्लैक फंगस का मामला देखते हुए जांच के लिए सैंपल दिल्ली भेजा गया। इसकी REPORT में शुक्रवार को ब्लैक फंगस की पुष्टि हो गई। वहीं, उसको शहर के एक अस्पताल एसआरएमएस में भर्ती कराया गया।

ब्लैक फंगस का मरीज निकलने के बाद 300बेड अस्पताल के सीएमएस डा. बागीश वैश्य ने बताया कि जो संक्रमित शुगर के रोगी हैं, उन्हें DOCTOR की उचित परामर्श के बाद ही Steroids देना चाहिए। स्टेरॉयड के साथ यह ध्यान रखना चाहिए कि मरीज का ब्लड शुगर सामान्य रहे। इसके दुष्प्रभाव शरीर के किसी भी अंग में फंगस उत्पन्न कर सकता है। यह आंख, मुंह, फेफड़े आदि किसी भी अंग में हो सकती है। इससे बचाव का कोई खास उपाय नहीं है। स्टेरॉयड का संतुलित व उचित देखरेख में प्रयोग ही बचाव है। यह जानलेवा बीमारी है। इसका इलाज काफी लंबा है।


Monika

By Monika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *