BAREILLY: Now the government of women will run in the village

इस बार कई महिलाओं ने त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में अपनी किस्मत आजमाई थी। जिसमें 11 महिला सदस्यों ने प्रधान पद का चुनाव जीता है। वहीं आठ महिलाएं बीडीसी का चुनाव जीतने में कामयाब रही हैं। प्रधान, बीडीसी, जिपं सदस्य पर कुल 44 सदस्यों ने हिस्सा लिया था।
जीती हुई ये महिलाएं खुद आत्मनिर्भर बनने के साथ अब गांव की पंचायतों में भी अहम भूमिका निभाएंगी। प्रदेश सरकार ने महिलाओं के सशक्तीकरण के लिए कई महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। महिला समूह अपनी कार्यक्षमता से समय-समय पर कृषि आधुनिकीकरण, हस्तशिल्प, यूनीफार्म निर्माण, मास्क, पीपीई किट उत्पादन आदि कार्यों में अच्छा प्रदर्शन कर चुकी हैं। कुछ ग्राम पंचायतों के समूह की पहचान विदेशों में तक है।
दरसल इनको सरकारी राशन की दुकान का संचालन, बिजली बिल कनेक्शन की जिम्मेदारी मिली है। इन सबके बीच इस बार गांव की राजनीति में भी महिला समूह की सदस्यों ने दांवपेंच आजमाए, जिसमें उन्हें कामयाबी मिली है। फरीदपुर ब्लॉक क्षेत्र के रामगंगा समूह की सदस्य शिखा सिंह, चंद्र गुप्त मौर्या समूह सदस्य संतोष कुमारी, ब्लॉक रिछा क्षेत्र के ओम स्वयं सहायता समूह की सदस्य चंद्रवती,फतेहगंज पश्चिमी ब्लॉक की अंबेडकर समूह की सचिव नूर बेगम, कारचौबी समूह की अध्यक्ष परवीन, नवाबगंज ब्लाक क्षेत्र के मानवी समूह की सदस्य पूजा, नारी शक्ति समूह की अध्यक्ष ममता, भुता ब्लॉक क्षेत्र के ममता समूह की सदस्य ममता, रामनगर ब्लॉक के शिव स्वयं सहायता समूह की अध्यक्ष बबली, क्यारा ब्लॉक क्षेत्र के निर्माला समूह की सदस्य निर्मला, लक्ष्मी समूह की बीसी सखी अनीता देवी प्रधान का चुनाव जीत चुकी हैं।


Monika

By Monika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *