Conspiracy to defame by making fake photos viral, the victim complained to the Superintendent of Police, the police engaged in investigation.

जनपद संभल के बहजोई थाना क्षेत्रान्तर्गत बदमाशो ने सोशल मीडिया प्लेटफार्म को बनाया दुश्मनी अदा करने का नया तरीका।फेक फोटो वायरल कर की बदनाम करने की साजिश।
दरसल बहजोई के ग्राम साकिन शोभापुर निवासी महिपाल पुत्र छोटे सिंह ने बताया कि प्रार्थीगण सीधे सच्चे ,शिक्षित व्यक्ति हैं प्रार्थी का भाई यशपाल सिंह यादव गांव के प्राथमिक विद्यालय में शिक्षामित्र के पद पर कार्यरत है वर्ष 2012 में प्रधानी की चुनावी रंजिश के चलते सोमवीर पुत्र देवेंद्र, धमेन्द्र पुत्र धर्मपाल, निरंकार पुत्र जुगेन्द्र व सुभाष पुत्र राजेन्द्र ने एक राय होकर बदमाशी के बल पर मेरे सगे बडे भाई चन्द्रपाल उर्फ बड्डे का मर्डर कर दिया था जिसमे नामजद रिपोर्ट दर्ज हुई और जॉचोपरान्त चारों मुल्जिम जेल गए जिसमें तीन बाहर आए हुए हैं जबकि धर्मेद्र 302 व गेंगस्टर आदि धाराओं में अभी भी जेल में है।
बताते चलें कि अभी कुछ दिनों पूर्व जेल से बाहर आए उक्त अभियुक्तों ने मेरे भाई शिक्षामित्र यशपाल की हाथ में तमंचा लिए फेक फोटो बदनाम व परेशान करने की नियत से सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर वायरल कर शिक्षा विभाग से नौकरी से हटाने की मांग भी कर दी।
विदित हो कि जेल में संगीन धाराओं में बन्द धर्मेन्द्र ने जेल से बाहर आए अपने साथियों की मदद से अपनी माँ श्रीमती नरेशा देवी को अपनी दबंगई बदमाशी व हथियारों के बल पर वर्तमान में प्रधानी का चुनाव जितवा कर ग्राम प्रधान भी बनवा दिया जोकि इन बदमाशों और दबंगों की दबंगई का ही नतीजा है।
प्रार्थी गण इन बदमाशों की नित नई मानसम्मान व जानलेवा हरकतों से आहत होकर न्याय वास्ते पुलिस अधीक्षक श्री चक्रेश मिश्रा जी से मिलकर परिस्थितियों को अवगत कराते हुए जानमाल की सुरक्षा की माँग को लेकर दर-दर भटक रहे हैं।

संभल से कपिल अग्रवाल और दिलीप सक्सेना के साथ प्रमोद यादव की रिपोर्ट


Monika

By Monika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *