Cyber ​​thugs: By showing pornographic videos, they are cheating

Cyber ​​thugs लगातार ठगी के तरीके में नये नये बदलाव करते रहते हैं। लॉकडाउन के दौरान ठगी का एक और तरीका निकाला है जिसमे अश्लील वीडियो चैट की रिकार्डिंग कर Cyber ​​ठगी के मामलों में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है। साइबर सेल के पास इस तरह के CASE पहुंच रहे हैं। जिसमें युवाओं के साथ बुजुर्ग भी ठगों के झांसे में फंस रहे हैं।
साइबर ठग जिस Video chat की Recording या screen shot भेजकर ठगते हैं, उसमें वह अश्लील वेबसाइट पर पहले से अपलोड वीडियो को चला देते हैं। इन वीडियो को इस तरह से चलाया जाता है, जैसे हकीकत में कोई लड़की सामने चैट कर रही हो। साइबर सेल में एक युवक ने शिकायत की थी कि उसकी फेसबुक पर एक अंजान युवती से दोस्ती हो गई। उसके बाद उसने VIDEOCALL पर बात की।उसके बाद उसे आपत्तिजनक वीडियो भेजकर 15 हजार रुपए की मांग की गई। ऐसा न करने पर social media पर वीडियो वायरल करने की धमकी दी।
दरसल एक सप्ताह पहले बरेली कॉलेज के एक छात्र के साथ भी इसी तरह की घटना सामने आई है । हालांकि वह ठगी से बच गए। इसी तरह से एक बुजुर्ग के साथ भी घटना हुई। बुजुर्ग के साथ भी अश्लील वीडियो बनाकर रुपयों की मांग की गई थी। इस तरह के मामले साइबर सेल के पास पहुंच रहे हैं।
साइबर सेल की जानकारी के दौरान पता लगा है कि यह गैंग राजस्थान के भरतपुर से संचालित हो रहा है। इस ग्रुप के सदस्य FACEBOOK पर लड़कियों के नाम से फर्जी अकाउंट बनाते हैं। उसके बाद रात के समय ऑनलाइन रहने वाले लोगों से फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजते हैं। फ्रेंड रिक्वेस्ट स्वीकार होने पर बातचीत की पेशकश की जाती है। इसके लिए व्हाट्सएप नंबर मांग लिया जाता है। उसके बाद वीडियो कॉल के लिए बोला जाता है।

वीडियो काल के दौरान पोर्न साइट (अश्लील वेबसाइट ) पर पहले से रिकार्ड वीडियो चला दी जाती है। कुछ देर वीडियो चलने के बाद काल काट दी जाती है। उसके बाद धमकाने का खेल शुरू हो जाता है। वीडियो कॉलिंग के दौरान स्क्रीन मिरर रिकार्डेड के जरिए VIDEO RECORD कर लिया जाता है। इसके अलावा स्क्रीन शॉट भी ले लिए जाते हैं।बदनाम करने की देते हैं धमकी वीडियो और स्क्रीन शॉट चैट करने वाले के व्हाट्सएप नंबर पर भेज दिया जाता है। उसके बाद उससे कहा जाता है कि इस वीडियो या फोटो को सोशल मीडिया या यू ट्यूब पर अपलोड कर दिया जाएगा। इसके अलावा उसके दोस्तों व परिजनों को भी वीडियो भेजने की धमकी दी जाती है। इससे लोग परेशान हो जाते हैं और वीडियो डिलीट करने के लिए कहते हैं। इसके लिए ठग रुपयों की मांग करते हैं। कई लोग बचने के चलते साइबर ठगों के द्वारा दिए गए अकाउंट में रकम डाल देते हैं। इस धंधे में लड़कियों को भी शामिल किया गया है, जो फोन पर बातचीत करके फंसाती हैं। कई बार देखने में आया है कि साइबर ठग खुद ही मोबाइल एप के जरिए लड़की की आवाज में बात कर लेते हैं।

FACEBOOK या अन्य Social media account के जरिए दोस्ती करने के बाद वीडियो चैट की शिकायतें आयी हैं। वीडियो चैट के दौरान अश्लील वीडियो बनाकर ठगी की जाती है। लोगों को किसी अनजान से दोस्ती व चैटिंग करने से बचना चाहिए।


Monika

By Monika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *