DM orders inquiry, against Medanta and Chandan Hospital

covid रोगियों के उपचार के लिए अधिक वसूली, इलाज में लापरवाही व अनियमितता बरतने वाले हॉस्पिटल पर नोडल अधिकारी डॉ. रोशन जैकब ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। उन्होंने स्पष्ट निर्देश दिए कि ओवर प्राइसिंग व उपचार में किसी भी प्रकार की लापरवाही को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
उन्होंने बताया कि प्राप्त शिकायतों के आधार पर स्वयं मेरे द्वारा और doctors व मजिस्ट्रेट की teams के द्वारा लगातार निरीक्षण किये जा रहे हैं। जांच के आधार पर दोषी पाए जाने वाले अस्पतालों पर एफआईआर दर्ज कराने की कार्यवाही भी की गई है। आज भी कुछ hospitals के बारें में अधिक वसूली व लापरवाही के संबंध में कुछ शिकायतें प्राप्त हुई हैं।
दरसल शिकायतकर्ता द्वारा बताया गया कि Medanta Hospital Lucknow की घोर लापरवाही, अदूरदर्शिता के कारण कोविड मरीज का उपचार आईएलडी नामक बीमारी समझकर करने से रोगी की मृत्यु हो गई। जिसके सम्बन्ध में नोडल अधिकारी द्वारा उक्त प्रकरण की जांच Pandemic Public Grievance Committee के द्वारा कराते हुए विधिक कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

शिकायतकर्ता द्वारा बताया गया कि Hospital Lucknow द्वारा घोर लापरवाही, अनियमितता तथा 18 से 20 लाख रुपये कोविड उपचार के लिए वसूले गए। शिकायतकर्ता द्वारा हॉस्पिटल के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही करने की मांग की गई। जिसके सम्बन्ध में नोडल अधिकारी द्वारा उक्त प्रकरण की जांच पैंडेमिक पब्लिक ग्रीवांस कमेटी के द्वारा कराते हुए विधिक कार्यवाही करने के निर्देश दिए।


Monika

By Monika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *