Pratapgarh: Raja Bhaiya and BJP face to face for the chair of District Panchayat President

प्रतापगढ़ में राजा भैया ने 42 जिला पंचायत सदस्यों के साथ होने का दावा किया है. राजा भैया के दावों के बाद खलबली मच गई है.
जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी के लिए सत्ताधारी पार्टी bjp,राजा भैया की जनसत्ता लोकतांत्रिक दल, सपा व कांग्रेस के बीच महासंग्राम छिड़ चुका है. राजा भैया ने प्रतापगढ़ में जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव से पहले 42 जिला पंचायत सदस्य साथ होने का दावा कर खलबली मचा दी है. राजा भैया का कहना था कि उनके साथ Party के जिला पंचायत सदस्यों के साथ भारी संख्या में निर्दलीयों का समर्थन है. राजा भैया के इस बयान के बाद bjp ने जिला पंचायत सदस्यों के लिए सम्मान समारोह व भोज का आयोजन किया. उस आयोजन को देखकर ये कहा जा सकता था कि bjp किसी भी कीमत पर प्रतापगढ़ की जिला पंचायत अध्यक्ष पद की कुर्सी अपने हाथ नही देना चाहती है.

जिला पंचायत चुनाव में मात्र 6 सीटों पर सिमटी बीजेपी के पंचायत सदस्यों के सम्मान समारोह व भोज में जिले के दिग्गज नेता शामिल हुए. इसमें Cabinet Minister से लेकर विधायक तक व bjp सांसद सांगमलाल गुप्ता भी मौजूद रहे.
bjp इस जिला पंचायत अध्यक्ष पद के चुनाव के समय भीतरघातियों से भी सबसे ज्यादा सावधान है. इसलिए party के गुप्तचर पल-पल का घटनाक्रम व बैठकों का विवरण बीजेपी आलाकमान तक पहुचा रहे हैं. बीजेपी भी अभी तक यही दिखाने की कोशिश कर रही है कि सब कुछ ठीक ठाक है. मीडिया को तो शहर में आयोजित जिला पंचायत सदस्यों के सम्मान सममरोह व भोज कार्यक्रम से दूर ही रखा गया, लेकिन सूत्रों के अनुसार bjp के खेमे में लगभग 46 जिला पंचायत सदस्यों के शामिल होने की चर्चा हो रही है.

इन सबके बीच कांग्रेस के पुराने दिग्गज नेता व पूर्व राज्यसभा सांसद प्रमोद तिवारी की पैनी नजर सभी दलों की गतिविधियों के ऊपर लगी हुई है. महत्वपूर्ण ये है कि आखिरी समय मे कांग्रेस किसे अपना समर्थन देगी.


Monika

By Monika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *