Who caught the lie on Maharajganj loot, busted by UP police

महराजगंज जनपद के पुरंदरपुर थाना क्षेत्र में 22 मई को स्वर्ण कारोबारी से लूट की सूचना झूठी निकली है। पुलिस ने लूट की सूचना देने वाले स्वर्ण कारोबारी के घर से ही लूट के सोने चांदी और नगदी बरामद कर घटना का पर्दाफाश कर लिया है। दरअसल बडे व्यापारियों के कर्ज से आजिज आरोपी स्वर्ण कारोबारी ने पुलिस को झूठी लूट की सूचना दी थी । इस झूठ की सजा ने आरोपी को सलाखों के पीछे पहुंचा दिया है।

कहते है कानून के हाथ बहुत लंबे होते है। कानून के साथ खिलवाड़ करना महराजगंज में एक स्वर्ण कारोबारी को बेहद महंगा पड़ गया। कर्ज से परेशान फेरी करके सोना बेचने वाले सुनार ने पुरंदरपुर पुलिस को 22 मई को सूचना दी कि उससे करीब 55 हजार रुपये और करीब 6.50 लाख के सोने चांदी के जेवर अज्ञात दो बाइक सवार चार बदमाशो ने पुरंदरपुर थाना क्षेत्र के रनियापुर समरधीरा मार्ग पर कब्रिस्तान के सामने से लूटकर भाग गए। पुलिस ने जब गहराई से जांच की तो लूट के रुपये और और सोने चांदी पुलिस ने पीड़ित के घर से ही बरामद कर लिया। एसपी प्रदीप गुप्ता ने घटना का सफल अनावरण करते हुए बताया कि घटना पहले ही दिन से संदिग्ध लग रही थी। सभी समान अब बरामद कर लिया गया है। साथ ही गलत सूचना देने वाले को ही लूट की धाराओं के अलावा 420, 193, 195, 182, 7 cla में आरोपी को गिरफ्तार कर तीस हजार रुपये और ढाई किलोग्राम चांदी के जेवर बरामद कर लिए है।

वही आरोपी सूर्यनारायण बर्मा ने अपनी गलती स्वीकारते हुए बताया कि लाकडाउन में बिजनेस प्रभावित होने के चक्कर मे बड़े व्यापारियों का कर्ज बढ़ गया। प्रेशर बढ़ने पर लूट की झूठी सूचना देना पड़ा। इस गलती से उसे बहुत पछतावा है।

महराजगंज से संवाददाता विजय चौरसिया के साथ दीपक बनिया की रिपोर्ट


Monika

By Monika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *