BAREILLY: Class IV female employee tried to kill herself by sprinkling kerosene on herself in school

एक माह का वेतन 14 साल से न मिलने से नाराज स्कूल की चतुर्थ श्रेणी महिला कर्मचारी ने School में खुद के ऊपर मिट्टी को तेल छिड़ककर जान देने की कोशिश की। महिला को School के कर्मचारियों ने पकड़कर उसकी जान बचाई। बाद में POLICE को मौके पर बुलाकर हवाले कर दिया गया। सूचना मिलने पर कोतवाली में पहुंचे महिला के पति ने भी स्कूल प्रबंधक पर पत्नी और परिवार को प्रताड़ित करने का आरोप लगाकर शिकायत की है। शिकायत मिलने के बाद POLICE ने मामले की जांच पड़ताल शुरू कर दी है।
दरअसल कोतवाली थाना क्षेत्र के बिहारीपुर रोड स्थित राम भरोसे लाल कन्या Inter College में गुरुवार को चतुर्थ श्रेणी महिला कर्मचारी ने स्कूल प्रशासन पर प्रताड़ना का आरोप लगाते हुए मिट्टी का तेल छिड़क कर आत्मदाह करने का प्रयास किया। हालांकि आनन-फानन में वहां मौजूद कर्मचारी व शिक्षकों ने महिला कर्मचारी को पकड़ लिया और उसके हाथ से माचिस वह मिट्टी के तेल बोतल छीन ली। महिला का आरोप है कि वर्ष 2007 के अगस्त में उसकी तनख्वाह रोक ली गई।
जिसको लेकर उसने शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ ही स्कूल प्रशासन से उसकी तनख्वाह का disposal कराने का अथक प्रयास किया। मगर किसी तरह का समाधान नहीं हुआ। जिससे वह परेशान हो गई और उसने आत्मदाह का प्रयास किया। इससे पहले वहां मौजूद सेवानिवृत्त बाबू से भी उसकी कहासुनी हुई। बताया जा रहा है कि महिला कर्मचारी का अगले वर्ष promotion होना है। यदि उसका एक माह का वेतन निर्गत नहीं हुआ तो उसके promotion में रुकावट आ सकती है।
प्रधानाचार्य नवनीत मेहता का कहना है कि महिला के एक माह के वेतन के मामले में कार्रवाई चल रही है। समस्या का समाधान करने की दिशा में पूरी प्रक्रिया अपनाई गई है। अब प्रक्रिया पूरी हो गई है। मंगलवार तक समस्या का समाधान हो जाएगा।
Inspector कोतवाली पंकज पंत ने बताया कि इस मामले में कोई तहरीर नहीं मिली है। अगर तहरीर मिलती है तो जांच के बाद REPORT दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जाएगी।


By Monika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *