बदायूं। व्यवस्था सुधार मिशन के अन्तर्गत प्रतिमाह द्वितीय और चतुर्थ शनिवार को दिया जाता है प्रशिक्षण।

खाद्य सुरक्षा विभाग को सक्रिय बनाने तथा आपूर्ति विभाग में व्याप्त भ्रष्टाचार के विरूद्ध सुचना के अधिकार का होगा प्रयोग।

भ्रष्टाचार मुक्ति अभियान के तत्वावधान में माह के द्वितीय व चतुर्थ शनिवार को आयोजित होने वाले प्रशिक्षण कार्यक्रमों की श्रृंखला में गूगल मीट ऐप के माध्यम से केंद्रीय कार्यालय प्रभारी रामगोपाल के संयोजन में ऑनलाइन सूचना कार्यकर्ता प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया गया। प्रशिक्षण शिविर में भ्रष्टाचार मुक्ति अभियान के मुख्य प्रवर्तक व व्यवस्था सुधार मिशन के जनक हरि प्रताप सिंह राठोड एडवोकेट द्वारा प्रशिक्षणार्थियों को सूचना के कानून की बारीकियां बताने के साथ ही लोकहित में प्रयोग के तरीक़े भी बताए गए। आज के सत्र में तृतीय पक्ष सुचना व द्वितीय अपील की प्रक्रिया विस्तार पूर्वक बतायी गई। साथ ही खाद्य सुरक्षा विभाग को सक्रिय बनाने एवं आपूर्ति विभाग मे व्याप्त भ्रष्टाचार को समाप्त करने हेतु सुचना के अधिकार का प्रयोग करने हेतु प्रेरित किया।

इस अवसर पर हरि प्रताप सिंह राठोड़ एडवोकेट ने कहा कि नागरिक इस देश के वास्तविक स्वामी हैं। प्रशिक्षण कार्यक्रमों से नागरिकों को दायित्व बोध कराकर उनमें निगरानी की प्रवृत्ति विकसित करने हेतु निरंतर प्रषिक्षण के कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। प्रशिक्षण कार्यक्रमों का व्यापक प्रभाव भी दिखाई दिया है। नागरिकों को लोकोपयोगी कानूनों का ज्ञान होना अत्यंत आवश्यक है। नागरिकों के अज्ञान का लाभ उठाकर ही लोकसेवक/ राजकीय सेवक राजा जैसा आचरण कर रहे हैं। सूचना का अधिकार व अन्य लोकोपयोगी व्यवस्थाओं के ज्ञान से नागरिकों में चेतना उत्पन्न होगी। सभी प्रशिक्षित कार्यकर्ता अन्य नागरिकों को भी इस प्रशिक्षण कार्यक्रम से जोड़े ताकि व्यवस्था परिवर्तन हो सके। प्रशिक्षित सूचना कार्यकर्ता ही व्यवस्था सुधार मिशन का हिस्सा बन सकेंगे। प्रत्येक सप्ताह किसी लोकहित के मुद्दे पर एक सूचना अवश्य मांगें साथ ही शिकायत पोर्टल का अधिकाधिक प्रयोग करें। वर्तमान आपदा काल में भ्रष्ट तत्व आपदा में अवसर तलाश रहे हैं, उन पर सूचना के अधिकार से प्रहार करे।

प्रशिक्षण शिविर में प्रमुख रूप से डाल भगवान सिंह, एम एल गुप्ता, रामगोपाल माहेश्वरी, डॉ राम रतन सिंह पटेल, डॉ सुशील कुमार सिंह, शमसुल हसन, सतेंद्र सिंह, एम एच कादरी, अखिलेश सिंह, अभय माहेश्वरी, आर्येंद्र पाल सिंह, अखिलेश सोलंकी, सुमित कुमार, प्रमोद कुमार, सुधीर कुमार, आशु मौर्य, अरविंद कुमार, महेश चंद्र, अजय पाल, दीपक माथुर, विपिन कुमार सिंह, कृष्ण गोपाल, राजीव कुमार आदि की सहभागिता रही।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *