Congress General Secretary Venugopal’s visit to Rajasthan, cabinet expansion in the state will happen soon

पंजाब में कैप्टन अमरिन्दर बनाम नवजोत सिद्धू झगड़े के बीच एक बार सचिन पायलट द्वारा उनको किये गए वादों को पूरा करने की मांग उठाने की बात सामने आई थी. पायलट के बागी होने तक की चर्चाएं तेज़ हो गई थीं.
पंजाब के बाद अब कांग्रेस आलाकमान जल्दी ही राजस्थान में भी गहलोत बनाम पायलट झगड़े को निपटाने वाला है.जानकारी के मुताबिक जल्दी ही राजस्थान कैबिनेट में काफी समय से लंबित विस्तार और फेरबदल किया जाएगा और राज्य में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत बनाम सचिन पायलट के झगड़े को भी सुलझा लिया जाएगा. पंजाब में कैप्टन अमरिन्दर बनाम नवजोत सिद्धू झगड़े के बीच एक बार सचिन पायलट द्वारा उनको किये गए वादों को पूरा करने की मांग उठाने की बात सामने आई थी. पायलट के बागी होने तक की चर्चाएं तेज़ हो गई थीं. इस बीच सूत्रों के मुताबिक सचिन पायलट ने केन्द्रीय नेतृत्व से मांग की थी की उनके समर्थकों को वायदे के मुताबिक मंत्रिमंडल और अलग अलग सरकारी संस्थाओं में शामिल किया जाए. सूत्रों के मुताबिक़ पायलट राजस्थान में खाली पड़े 9 कैबिनेट पदों में से अपने 6 से 7 समर्थक विधायकों को मंत्री बनवाना चाहते हैं. अहम बात ये भी है कि अभी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के पास खुद 38 पोर्टफोलियो हैं, जिनको भी अलग अलग मंत्रियों को आवंटित किया जाना है.
सचिन पायलट के करीबी सूत्रों के मुताबिक़ पायलट को पूरी उम्मीद है कि केन्द्रीय नेतृत्व उनसे वायदे के मुताबिक उनकी मांगों को सम्मानजनक तरीके से तरजीह देगा. वहीं कांग्रेस के केन्द्रीय नेतृत्व के करीबी सूत्रों ने भी दावा किये कि राजस्थान में दोनों पक्षों के बीच सुलह का खाका तैयार है और बहुत जल्दी ही कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी के मुहर के बाद राजस्थान सरकार में फेर बदल कर सभी पक्षों को संतुष्ट कर दिया जाएगा.
इसके अलावा आपको बता दें कि कयास इस बात के भी हैं कि सचिन पायलट के समर्थकों को राजस्थान सरकार में उचित संख्या में शामिल कर सचिन पायलट को केन्द्र में महासचिव बना कर दिल्ली लाया जा सकता है, मगर पायलट के करीबी सूत्रों का कहना है कि पायलट की प्राथमिकता राजस्थान ही है, वो प्रदेश नहीं छोड़ना चाहते. हालांकि कांग्रेस नेतृत्व उनसे कोई भी भूमिका को निभाने को कहे वो उन्होंने हमेशा निभाया है.


Monika

By Monika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *