Dabang former head did indecency with Naga Sadhu, abused fiercely

गांव से निकल जाने की दी धमकी, पीड़ित ने मुख्यमंत्री से लगाई न्याय की गुहार

चित्रकूट- धर्म नगरी चित्रकूट हमेशा से आस्था का केंद्र रहा है यहां पर बड़ी मात्रा में साधु संत रहते हैं व पूजा अर्चना करते हैं लेकिन आज वही साधु-संत सुरक्षित नहीं है जिधर देखो उधर इन साधु संतों के साथ अभद्रता करने वालों की कमी नहीं है लेकिन जब यह साधु संत शासन प्रशासन से न्याय की गुहार लगाते हैं तो शासन प्रशासन भी उनकी कुछ सुनने को तैयार नहीं है जिसके कारण यह बैराग धारी साधु न्याय के लिए चारों तरफ गुहार लगाते हुए नजर आते हैं लेकिन उनकी सुनने वाला कोई नहीं है l

ऐसा ही एक मामला सामने आया है ब्लॉक मुख्यालय रामनगर का l

रामनगर ब्लॉक मुख्यालय के पुल के पास एक नागा साधु कई वर्षों से रह रहा है व पूजा पाठ कर रहा है लेकिन आज उसी साधु का जीना दुर्लभ है जिसके साथ पूर्व प्रधान द्वारा गाली गलौज की जाती हैं व गांव से निकल जाने की धमकी दी जाती है जिससे हताश होकर यह नागा साधु गांव के ग्रामीणों से मिलकर अपनी व्यथा सुनाता हुआ नजर आता है

नागा साधु पर हो रहे अत्याचार की जानकारी जब भीम आर्मी जिलाध्यक्ष संजय सिंह राणा को मिली तो भीम आर्मी भारत एकता मिशन के जिलाध्यक्ष संजय सिंह राणा ने साधु के उत्पीड़न की घटना की जानकारी मिलते ही पीड़ित साधु से मिलने पहुंचे lजिसमें पीड़ित नागा साधु ने बताया कि रामनगर गांव के पूर्व प्रधान राजकरन पहलवान द्वारा बेवजह मुझे बार-बार गाली गलौज किया जा रहा है व गांव से निकल जाने की धमकी दी जा रही है जिसमें पीड़ित ने यह भी बताया कि मेरा कोई दोष नहीं है लेकिन फिर भी पूर्व प्रधान द्वारा बार-बार गाली गलौज की जाती हैं l
पीड़ित ने यह भी बताया कि प्रधान रहते हुए भी राजकरन पहलवान द्वारा कई बार गाली गलौज की गई व मारपीट करने तक की धमकी दी गई व गांव से निकल जाने तक को कहा गया लेकिन हम साधु होने के नाते कुछ नहीं बोले लेकिन जिला पंचायत का चुनाव हारने के बाद पूर्व प्रधान द्वारा एक बार फिर अभद्रता की गई व अपमानित करने का काम किया गया जिस से हताश होकर पीड़ित ने ग्रामीणों से आपबीती बताई व भीम आर्मी जिलाध्यक्ष संजय सिंह राणा से सारी घटना की जानकारी दी जिसमें भीम आर्मी जिलाध्यक्ष संजय सिंह राणा ने इस नागा साधु को आश्वासन दिया कि आपकी आवाज को सामाजिक तौर पर या फिर मीडिया के माध्यम से शासन प्रशासन तक पहुंचाने का काम किया जाएगा व गाली गलौज करने वाले पूर्व प्रधान के ऊपर कड़ी से कड़ी कार्यवाही करवाई जाएगी जिससे दोबारा कोई व्यक्ति साधु संतो को अपमानित न कर सके l
अब देखना यह है कि क्या जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन सहित जनप्रतिनिधि व साधु संत इस मामले को संज्ञान में लेते हुए बार-बार अपमानित करने वाले दबंग पूर्व प्रधान के ऊपर कार्यवाही करवाने का काम करेंगे या फिर इस दबंग पूर्व प्रधान की मनमानी ऐसे ही चलती रहेगी यह एक बड़ा सवाल है l

ओम प्रकाश की खास रिपोर्ट 6306860370
जिला संवाददाता चित्रकूट


Monika

By Monika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *