DM SSP along with District Judge and other judges inspected District and Central Jail:-

     बरेली। उच्च न्यायालय के आदेशानुसार जनपद न्यायाधीश श्रीमती रेणु अग्रवाल की अध्यक्षता में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट अतुल चौधरी, सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण न्यायाधीश सत्येन्द्र सिंह वर्मा ने गुरुवार को जिला कारागार और केंद्रीय कारागार का आकस्मिक निरीक्षण किया। जिला जज द्वारा जिला जेल में विधिक सहायता हेतु बनाए गए विधिक सहायता केन्द्र का उद्घाटन किया गया। जिसके बाद जिला जेल में बंद किशोर बंदियों से वार्ता की गई और जिला जेल अधीक्षक विजय विक्रम सिंह को सभी बंदियों को विधिक सहायता दिलाने के निर्देश दिए गए। जिला जज द्वारा पाकशाला में भोजन की गुणवत्ता भी परखी गई। जिला जज और समस्त अधिकारियों द्वारा जिला जेल में वृक्षारोपण भी किया गया। इस मौके पर जिलाधिकारी नीतीश कुमार और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक रोहित सिंह सजवाण, जेल अधीक्षक विजय विक्रम सिंह, जेलर राकेश कुमार वर्मा, राजीव कुमार मिश्रा, डिप्टी जेलर आलोक कुमार, कृष्ण मुरारी गुप्ता, शिवराम, चिकित्सक डॉ एस.के. जौहरी, डॉ आर.के. वर्मा भी मौजूद रहे।
केंद्रीय कारागार में 60 वर्ष की आयु पार कर चुके बंदियों की रिहाई के सम्बन्ध में जिला जज ने कारागार अधीक्षक आर एन पाण्डेय और जेलर विजय राय से आख्या तलब की है, साथ ही केंद्रीय कारागार में बंदियों के स्वास्थ्य के लिए बने कारागार का भी निरीक्षण किया।
आला अधिकारियों ने निरीक्षण के दौरान विभिन्न बैरकों में जाकर कैदियों को दी जाने वाली सुविधाओं के बारे में विस्तार से पूछताछ की। बंदियों से पूछा कि उन्हें किसी प्रकार की समस्या तो नहीं है।

जिला जज के साथ सभी अधिकारियों ने पाकशाला में जाकर भोजन की गुणवत्ता का परीक्षण करने के साथ ही बंदियों से भी फीडबैक लिया।  जिला न्यायाधीश ने बंदियों को विधिक सहायता के संबंध में बताया। इस मौके पर न्यायाधीशों के साथ सीजेम अतुल चौधरी, सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण न्यायाधीश सत्येन्द्र सिंह वर्मा, जिलाधिकारी नीतीश कुमार, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक रोहित सिंह सजवाण और पैरालीगल वॉलिंटियर शुभम राय और रजत गुप्ता उपस्थित रहे।


Monika

By Monika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *