Etah: The fake policeman who created the orgy arrested…

उत्तरप्रदेश की एटा पुलिस ने एक फर्जी दरोगा को गिरफ्तार कर एक चौका देने वाला खुलासा किया है…पिछले रविवार को एटा में सड़क पर बाइक के कागज चैक करने के नाम पर बाइक सवार को बैल्ट से पीटने और तांडव मचाने वाला दारोगा निकला फर्जी दरोगा, एटा पुलिस ने नकली औऱ फर्जी दरोगा को अलीगढ़ से मय वर्दी और फर्जी आईकार्ड के साथ गिरफ्तार कर लिया है, वही नकली दरोगा का एक साथी उत्तरप्रदेश के अलीगढ़ में डायल 112 पर तैनात बताया जा रहा है जो इसका सहयोग करता था पुलिस उसको भी तलाश कर रही है, इस फर्जी दरोगा ने जिले में चेकिंग के नाम पर 2 दर्जन से ज्यादा लूट की घटनाओं को अंजाम दिया है, चेकिंग के नाम पर तलाशी में जो भी नगदी जेवर मिलता था ये नकली दरोगा सब सामान अपने कब्जे में कर थाने की कहकर फरार हो जाता था,पुलिस को इसकी काफी लम्बे समय से तलाश थी,जो आज गिरफ्तार कर लिया गया है।

आपको पूरा मामला बता दे कि एक फर्जी दरोगा विवेक यादव जो कि अलीगढ़ के थाना गांधी पार्क क्षेत्र का रहने वाला बताया जा रहा है,इस नकली दरोगा ने एटा में चेकिंग और जाँच के नाम पर पुलिसिया रौब दिखाकर लोगों की जेब से रुपये निकालकर लूट कर हड़कम्प मचा दिया था,15 दिन के भीतर लगभग 2 दर्जन से ज्यादा लूट की घटनाओं को अंजाम देकर फरार हो गया था और ये इतना शातिर था कि कोई भी घटना सीसीटीवी कैमरे ना आ जाये इसलिए ये ज्यादातर घटनाएं देहात क्षेत्र में करता था,वही पिछले रविवार को एटा शहर के नंनुमल चौराहे पर इसने अचानक आकर पुलिस कर्मियों के सामने बाइक चेकिंग करना सिरु कर दी और बाइक सवार से कागज मांगने लगा कागज ना दिखाने पर दरोगा का रुतबा झाड़ते हुए गाली गलौज करते हुए बैल्ट उतारकर बाइक सवार को बैल्ट से पीटने लगा तभी वहा पर मौजूद किसी बियक्ति ने उसका वीडियो बना लिया और शोशल मीडिया पर वायरल कर दिया फिर किया था, पुलिस की इस वायरल वीडियो से जिले में पुलिस की छवि गिर रही थी तत्काल एटा एसएसपी उदय शंकर सिंह ने वायरल वीडियो का संज्ञान लेते हुए वर्दी पर दिख रहे विवेक यादव नाम के दरोगा की जाँच कोतवाली सिटी इंस्पेक्टर देवकीनंदन मिश्रा को सौंप दी तब ये जाँच में पता चला कि पूरे जिले में विवेक यादव नाम का कोई दरोगा ही नही है, कोतवाली नगर पुलिस, क्राइम ब्रांच और स्वाट टीम सहित सर्विलांस टीम ने आरोपी फर्जी दरोगा विवेक यादव की तलाश करते हुए फर्जी नकली दरोगा को अलीगढ़ से गिरफ्तार कर लिया है जिसकी उम्र साढ़े पन्द्रह साल बताई जा रही है, वही अलीगढ़ रेंज के डीआईजी दीपक कुमार ने बताया कि आरोपी का नाम विवेक यादव है जो अलीगढ़ के गांधी पार्क थाना क्षेत्र का रहने वाला है पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया पूछताछ में पता चला कि वो पुलिस का सब-इंस्पेक्टर नहीं है उसके द्वारा पुलिस विभाग और शासन की छवि को बदनाम करने के लिए यह कार्य किया गया है वही इस फर्जी दरोगा विवेक यादव का साथी भी अलीगढ़ में ही तैनात एक दरोगा का हाथ है आरोपी विवेक यादव को उसने ही पुलिस की वर्दी अलीगढ़ के रशदगंज के खुर्शीद टेलर से सिलवाकर दी थी,उसने विवेक यादव से पुलिस और शासन को बदनाम करवाने के लिए सोची-समझी साजिश के तहत यह कृत्य करवाया गया उस दरोगा को भी अरेस्ट किया जा रहा है, इसके पीछे जो भी लोग होंगे उनके खिलाफ भी सख्त कार्रवाई की जाएगी, वही DIG ने बताया कि आगे से पुलिस का पीएनो नंबर दिखाकर ही कोई भी पुलिस की वर्दी टेलर से सिलवा सकेगा। वही इस मामले में एटा सदर विधायक विपिन वर्मा/डैविड ने बताया कि इसके पीछे एक साजिश है इन्होंने संयन्त्र के तहत हमारी सरकार और उत्तरप्रदेश पुलिस को बदनाम करने के लिए ये सब किया गया है जिसका एटा पुलिस ने खुलासा किया जो बहुत प्रशंशनीय है और सरकार को बदनाम करने वालो को बख्शा नही जाएगा। वही एटा एसएसपी उदय शंकर सिंह ने बताया कि इस मामले में एटा पुलिस ने फर्जी दरोगा को गिरफ्तार कर लिया है, इसके रैकेट में शामिल अन्य लोगों के बारे में पता किया जा रहा है, जो भी इसमें शामिल होगा उसे छोड़ेंगे नहीं।

रिपोर्टर- आर.बी.द्विवेदी एटा


By Monika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *