Fierce fight between BJP workers and farmers at Ghazipur border

कृषि कानून के खिलाफ Delhi की सीमाओं पर किसानों के प्रदर्शन को सात महीने हो चुके हैं. इसी बीच UP Gate Ghazipur Border पर सुबह किसानों और BJP कार्यकतार्ओं के बीच मारपीट की घटना सामने आई है. इसमें गाड़ियों में तोड़ फोड़ और कुछ लोगों के चोट लगने का दावा किया जा रहा है. जानकारी के अनुसार, सुबह 10 बजे करीब बीजेपी के कुछ कार्यकर्ता बीजेपी नेता अमित वाल्मीकि के स्वागत में आंदोलन स्थल के पास मौजूद थे, ढोल नगाड़े बजाकर उनका स्वागत किया जा रहा था. इसी दौरान किसानों ने भी इस बात पर आपत्ति जताई और उनको काले झंडे दिखाना शुरू कर दिए. देखते ही देखते दोनों गुटों की बीच मारपीट शुरू हो गई.

BJP के एक कार्यकर्ता ने बताया, हम अपने नेता का स्वागत कर रहे थे और तभी कुछ लोग आए और उनके हाथों में लोहे के डंडे वगैरह थे. उन्होंने गाड़ियों में तोड़फोड़ और मारपीट शुरू कर दी. उन्होंने करीब 70 से 80 गाड़ियों में तोड़फोड़ की है. बीजेपी रनिता सिंह महानगर उपाध्यक्ष ने कहा, बीजेपी नेता अमित वाल्मीकि के स्वागत में हम शांतिपूर्ण खड़े हुए थे. उसी दौरान टिकैत के समर्थक हथियार लेकर आए और हमारी बहनों के साथ मारपीट की, जिससे कई महिलाएं चोटिल हो गईं हैं.दूसरी ओर किसानों का आरोप है कि भाजपा के कुछ कार्यकर्ता आंदोलन स्थल पहुंच किसानों के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे, तभी किसानों और उनके बीच मारपीट हुई. किसानों द्वारा ये भी कहा जा रहा है कि, भाजपा कार्यकता गाली-गलौच कर रहे थे. किसानों ने इसपर अप्पति जताई तो उन्होंने पत्थर फेंकना शुरू कर दिया. जिसके बाद ये घटना हुई.

दरअसल भारतीय किसान यूनियन केUPअध्यक्ष राजवीर सिंह जादौन ने बताया, भाजपा के कुछ कार्यकर्ता झंडे लेकर आंदोलन स्थल पहुंचे हुए थे. उसी दौरान किसानों के बीच मारपीट हुई, हम पुलिस को इस घटना की शिकायत देंगे. हमारे ऊपर आक्रमण हो और हम शिकायत न दें, ऐसा नहीं हो सकता.
गाजियाबाद इंदिरापुरम के सीओ अंशु जैन ने बताया, बॉर्डर पर धरना पहले से ही चल रहा है. बीजेपी के एक नेता का काफिला आंदोलन स्थल से गुजर रहा था, उन्ही के स्वागत में कुछ कार्यकर्ता यहां मौजूद थे. किसानों और उनके बीच ये विवाद हुआ. एक दो गाड़ियों के साथ तोड़फोड़ हुई है.


Monika

By Monika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *