Minor girl was raped by miscreants at the tip of a gun

तमंचे के बल पर मां बाप और नाबालिग लडकी को दबंगों ने किडनैप कर लिया और तीनों को किडनैप करके मां बाप के सामने ही तमंचे के नोक पर नाबालिग लड़की के साथ दबंगों ने बलात्कार किया बदले की भावना में किडनैप की गयी नावालिग लड़की के साथ बलात्कार करने के बाद जबरदस्ती शादी कर वीडियो व फोटो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिये।
योगी सरकार के सत्ता के साढ़े चार वर्ष पूरे होने को हैं । इन वर्षों में शासन द्वारा बड़े बड़े दावे किए गए जिनमे महिला की सुरक्षा के लिए एन्टी रोमियो फोर्स का गठन भी किया गया व महिला शशक्तिकरण दिवस भी मनाया जाता है ।इसके बाबजूद भी आज भी महिलाओ पर हो रहे अत्याचारों में कमी नही आ रही है ज़िले के अधिकारियों के कागजो में कुछ और धरातल पर कुछ और ही नजर आता है । शासन प्रशासन की इस लापरवाही से जुड़ा एक शर्मसार कर देने वाले मामला यूपी के जनपद मुरादाबाद से सामने आया है।

जानकारी के अनुसार पूरा मामला जनपद मुरादाबाद के थाना छजलैट की फत्तेपुर चौकी के अंतर्गत आने वाले ग्राम का है । जहाँ एक लड़का एक लड़की को लेकर फरार हो गया था तो लड़की पक्ष ने भी बदले की भावना से लड़के के माँ, बाप,व उसकी नावालिग बहन को घर से जबरन अगवा करके तमंचे के बल पर सामूहिक बलात्कार कर अपनी रिश्तेदारी में ले जाकर जबरदस्ती नाबालिग लडकी से शादी कर उसकी वीडियो फोटो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिए हैं।
लड़की के परिजनों के कहना है कि उनको व उनकी नावालिग लड़की को किडनैप करके आरोपी दबंग रिश्तेदारो में ले गये व मां व बाप के सामने ही तमंचे के बल पर उनकी नाबालिग लड़की का बलत्कार किया और अपने कुछ सगे सम्बन्धियो की मौजूदगी में लड़की के साथ जबरदस्ती शादी रचा ली । और माँ बाप को यह कह कर छोड़ दिया की अगर कहि शिकायत की तो लड़की को जान से मार देंगे व शादी की वीडियो व फोटो वायरल कर देंगे ।
घर पहुचे परिजनों ने अपनी आपबीती अपने घर वालो को बताई तो वह इसकी लिखित शिकायत करने चौकी से लेकर थाने गये लेकिन उनकी कोई सुनवाही नही हुई , तो वह पुलिस अधीक्षक से मिलने उनके कार्यलय पहुचे लेकिन मिल नही पाए तो उन्होंने डाक द्वारा अपने प्रार्थना पत्र भेजे
इस सम्बंध में जब थानाध्यक्ष छजलैट से बात की तो उनका कहना है कि इस तरह कोई भी मामला उनके संज्ञान में नही है ।
अब देखना यह होगा कि पुलिस प्रशासन कब तक नाबालिग लड़की की ऐसे दरिंदे दबंगों के चंगुल से छुड़ा पाएगा और कब तक आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करेगा यह तो अब आने वाला समय ही बताएगा। लेकिन इस समय सबसे बड़ा सवाल यह उठता है कि योगी सरकार में यूंही दबंगई के बल पर बहन बेटियों की इज्जत आबरू लूटती रहेगी या फिर इस पर योगी सरकार अंकुश लगाएगी फिलहाल यह सवाल अभी तक योगी सरकार की बड़ी लापरवाही बना हुआ है।

मुरादाबाद से कपिल अग्रवाल और गिरीश यादव के साथ सुमित कुमार की रिपोर्ट


By Monika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *