Sambhal: The first rain of the monsoon opened the poll of the Municipal Council…

जनपद संभल के चंदौसी नगर पालिका परिषद के खोखले वादों की मानसून की पहली बरसात ने ही सारी पोल खोल कर रख दी।पूरा शहर ऐसा लगा कि मानो समुद्र की ऊंची ऊंची लहरों के बीच बसा हो।शहर के मुख्य मार्ग जैसे स्टेशन रोड ,फौव्वारा,मुरादाबाद गेट , बड़ा बाजार , ब्रम्ह बाजार , बिसौली गेट ,सीता आश्रम , संभल गेट ,सीकरी गेट सलीम की पुलिया इत्यादि सभी क्षेत्रों में कूड़ें व नालों की गन्दगी के ढेरों के साथ कई फुट तक उफनती पानी की लहरों के बीच होकर लोग निकलने को मजबूर होते देखे गए ऐसे में छोटे बडे सभी वाहनों के चालक पानी में डूबकर बन्द हो चुके अपने वाहनों को सड़कों पर नाव की तरह खेते हुए धक्के मार कर निकालते नजर आए।
बताते चलें की चंदौसी पालिका क्षेत्र में कुल छोटे-बड़े लगभग 27 नाले हैं जिनमें 11 बड़े व 16 छोटे नाले हैं जिन की साफ सफाई के नाम पर प्रतिवर्ष लाखों रुपए के ठेके सिर्फ कागजों में दर्शा कर डकार लिए जाते हैं जिसका नतीजा आज पहली बारिश पर ही शहर वासियों को जान जोखिम में डाल कर भोगना पड़ रहा है।
विदित हो कि शहर के नालों पर बने कई तो मेनहोल ऐसे हैं जिन के ढक्कन भी या तो चोर चुरा कर ले गए हैं या टूटे पड़े हैं ऐसे में सड़कों पर भरे पानी से मेनहोल के दिखाई ना देने से कभी भी व्यक्ति या जानवर के साथ एक बड़ी अनहोनी की आशंका हमेशा बनी रहती है। लेकिन नगर पालिका नाला सफाई के नाम पर लाखों-करोड़ों डकारने के बाद भी सिर्फ कानों में तेल और आँखों पर पट्टी बाँध कर गूँगी बहरी बन कर बैठी नज़र आ रही है।

संभल से कपिल अग्रवाल के साथ दिलीप सक्सेना की रिपोर्ट


Monika

By Monika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *