The student reached to take admission with the fake letterpad of Deputy CM Keshav Prasad Maurya

डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य का लेटरपैड लेकर एडमीशन कराने के लिए एक छात्रा एमजेपी रुहेलखंड विश्वविद्यालय पहुची। कुलपति को लेटरपैड पर शक हुआ तो उन्होंने डिप्टी सीएम कार्यालय पर फोन करके छानबीन की तो पता चला कि लेटर फ़र्ज़ी है। जिसके बाद कुलपति ने बारादरी थाने में छात्रा और लेटर जारी करने वाले के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवा दी है।
दरअसल एमजेपी रुहेलखंड विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर केपी सिंह के पास एक छात्रा लगातार एडमीशन का दबाब बना रही थी। वो आये दिन फोन कराती थी। जिसके बाद वो डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य का लेटरपैड लेकर एडमीशन कराने के लिए कुलपति के पास पहुची और उनपर स्नातक में एडमीशन का दबाब बनाया। कुलपति को लेटर पर शक हुआ तो उन्होंने डिप्टी सीएम के कार्यालय पर फोन करके जानकारी ली। तब पता चला कि वहां से एडमीशन के लिए कोई भी पत्र जारी नही किया गया है। जिसके बाद कुलपति ने बारादरी थाने में छात्रा और पत्र जारी करने वाले के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवा दी है। इस मामले में एसएसपी रोहित सिंह सजवाण का कहना है कि उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के नाम से फ़र्ज़ी लेटरपैड लेकर एक छात्रा एडमीशन कराने के लिए महात्मा ज्योतिबा फुले रुहेलखंड विश्वविद्यालय पहुची थी। जानकारी करने पर पता चला कि लेटर फ़र्ज़ी है। जिसके बाद बारादरी थाने में एफआईआर दर्ज कर ली गई है। और मामले की छानबीन शुरू कर दी गई है।

सीएनएन न्यूज़ भारत
गुलरेज खान


By Monika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *